toolbar

Powered by Conduit

adsense code

Sunday, September 14, 2014

Fwd: [Suvichar - Good Thoughts by Param Pujya Sudhanshuji Maharaj] mahanta





---------- Forwarded message ----------
From: Madan Gopal Garga <mggarga4@gmail.com>
Date: 2014-09-14 15:59 GMT+05:30
Subject: [Suvichar - Good Thoughts by Param Pujya Sudhanshuji Maharaj] mahanta
To: mggarga4@gmail.com


Visit Daily BLOGS For MORE  POSTINGS


परम पूज्य सुधांशुजी महाराज

 मदन गोपाल गर्ग ,एल एम्, वी जे एम् 




"महानता जब आपके अन्दर जागती है तो आप नीचा कुछ भी कार्य नहीं करेगें। ऐसा कुछ भी नहीं करेंगें जिससे आपको खुद भी निराशा हो।

इसलिए ध्यान रखें जैसे जैसे हम प्रभु के निकट होते जाते है हमारे अन्दर एक पूर्णता आती है , हमारा अधूरापन दूर होता है,

हमारी सम्पूर्णता जाग्रत होने लग जाती है।"

 



--
Posted By Madan Gopal Garga to Suvichar - Good Thoughts by Param Pujya Sudhanshuji Maharaj at 9/14/2014 03:59:00 PM


Fwd: [Suvichar - Good Thoughts by Param Pujya Sudhanshuji Maharaj] mahanta


---------- Forwarded message ----------
From: Madan Gopal Garga <mggarga4@gmail.com>
Date: 2014-09-14 15:59 GMT+05:30
Subject: [Suvichar - Good Thoughts by Param Pujya Sudhanshuji Maharaj] mahanta
To: mggarga4@gmail.com


Visit Daily BLOGS For MORE  POSTINGS


परम पूज्य सुधांशुजी महाराज

 मदन गोपाल गर्ग ,एल एम्, वी जे एम् 




"महानता जब आपके अन्दर जागती है तो आप नीचा कुछ भी कार्य नहीं करेगें। ऐसा कुछ भी नहीं करेंगें जिससे आपको खुद भी निराशा हो।

इसलिए ध्यान रखें जैसे जैसे हम प्रभु के निकट होते जाते है हमारे अन्दर एक पूर्णता आती है , हमारा अधूरापन दूर होता है,

हमारी सम्पूर्णता जाग्रत होने लग जाती है।"

 



--
Posted By Madan Gopal Garga to Suvichar - Good Thoughts by Param Pujya Sudhanshuji Maharaj at 9/14/2014 03:59:00 PM

Sunday, August 31, 2014

Fwd: [ADHYATMIK] एक दफा एक राजा

एक दफा एक राजा




Visit Daily BLOGS For MORE  POSTINGS


परम पूज्य सुधांशुजी महाराज

 मदन गोपाल गर्ग ,एल एम्, वी जे एम् 



एक दफा एक राजा के  ऊपर  किसि दूसरे राजा ने हमला कर दिया ! राजा ने अपने ज्योतिषी को बुलाया और उनसे पूछा कि हम को क्या करना चाहिए ! ज्योतिषी ने उत्तर दिया महाराज जिस दिशा से हमला हुआ हे वह पूरब की और हे और आज उधर दिशाशूल हे ,आज हम उस और नहीं जा सकते ! व़जीर बराबर कह रहा हे कि महाराज फौरन हमला करो ! राजा ने कहा नहीं हम को ज्योतिषी की बात मननी है ! ज्योतिशी ने कहा हम को इस समय उलटी दिशा में जाना चाहिए ! और वो पश्चिम की और चल दिए !
उनका व़जीर बार बार कह रहा हे महारज हमला करो ! राजा ने कुछ नहीं सुना !
रासते में उन को एक किसान मिला जो पूरब की और जा रह था ! ज्योतिषी ने उस को रोका और बोला आज इधर दिशाशुल है इधर मत जाओ ! किसान बोला हजूर इधर तो में जब से मेने होश सम्भाला अपने खेत पर जाता रहा हूँ और मेरे बाप दादा भी जाते रहे हें ! ज्योतिषी ने कहा अच्छा अपना हाथ दिखा ! किसान ने उस को अपना उलटा हाथ दिखाया ज्योतिषी ने कहा सीधा कर के दिखाओ !
किसान बोला हम भिखारी नही हैं जो हाथ फेलाए ! हमारे शहर मे महाकाल का बास हे हम को काहे का डर हे .! और वह जै महाकाल कह कर चला गया !
राजा को भी अकल आइ और उसने मंत्री से कहा हमला बोलो और जै महकाल का नारा लगा कर हमला बोल दिया और जीत गया !



--
Posted By Madan Gopal Garga LM VJM to ADHYATMIK at 8/31/2014 04:15:00 PM

Wednesday, August 27, 2014

Fwd: [ADHYATMIK] अश्क आख़िर




आज का गुरु संदेश 27-8-2014
Visit Daily BLOGS For MORE  POSTINGS


परम पूज्य सुधांशुजी महाराज

 मदन गोपाल गर्ग ,एल एम्, वी जे एम् 


  • अश्क आख़िर अश्क है शबनम नहीं है ,
  • दर्द आखिर दर्द है सरगम नहीं है ,
  • उम्र के त्यौहार में रोना मना है ,
  • जिंदगी आख़िर जिंदगी है मातम नहीं है !
  • परम पूज्य सुधांशुजी महाराज


  • --
    Posted By Madan Gopal Garga LM VJM to ADHYATMIK at 8/27/2014 09:43:00 AM

    Tuesday, August 26, 2014

    Fwd: [ADHYATMIK] आज का गुरु संदेश 26-8-2014






    आज का गुरु संदेश 26-8-2014
    Visit Daily BLOGS For MORE  POSTINGS


    परम पूज्य सुधांशुजी महाराज

     मदन गोपाल गर्ग ,एल एम्, वी जे एम् 


    "जीवन की सम्पूर्णता है आनन्द और आनन्द परमात्मा का ही एक रूप या एक नाम है, जिसे सच्चिदानन्द कहा जाता है। हमारा जन्म परमात्मा से मिलने के लिए ही हुआ है और इसी उद्देश्य को लेकर हम दुनिया में आए है। वस्तुतः जीवन एक अवसर है परमात्मा से मिलने के लिए।"



    --
    Posted By Madan Gopal Garga LM VJM to ADHYATMIK at 8/26/2014 10:12:00 AM

    Saturday, August 23, 2014

    Fwd: [ADHYATMIK] जीवन में जरुरी

    जीवन में जरुरी





     जीवन में जरुरी



      परम पूज्य सुधांशुजी महाराज

       मदन गोपाल गर्ग ,एल एम्, वी जे एम् 

    • जीवन के लिए तीन चीजें जरुरी हैं :-
    • ज्ञान ,कर्म और उपासना 
    • (भक्ति ), 
    • इन तीनों के बगेर जीवन नहीं चल सकता !
    • गुरुवर सब की रक्षा करें



    --
    Posted By Madan Gopal Garga LM VJM to ADHYATMIK at 8/23/2014 10:19:00 AM

    Friday, August 22, 2014

    Fwd: विपत्ती मैं

    विपत्ती मैं

    Visit Daily BLOGS For MORE  POSTINGS


    परम पूज्य सुधांशुजी महाराज

     मदन गोपाल गर्ग ,एल एम्, वी जे एम् 

    • भगवान को भूलना मत ,
    • सत्य को छोड़ना मत ,
    • संपति से फूलना मत ,
    • विपत्ती मैं मुरझाना मत ,
    • परमार्थ सेवा करने से रुकना मत !
    • परम पूज्य सुधांशुजी महाराज